आज के मुख्य समाचार ताजा खबर | Indian Share Market News Today | Opening Bell | Stock 24X7 News

आज के मुख्य समाचार ताजा खबर | Indian Share Market News Today | Opening Bell | Stock 24X7 News


Table of Contents :-

1) RBI Repo rate news today

2) foreign portfolio investors in share market

3) IT Company Share Latest News

4) Last Date for ITR Return

5)  housing development finance corporation share news today




Last Date for ITR Return 

दोस्तों वित्त वर्ष 2021-22 के लिए इनकम टैक्स रिटर्न (Income Tax Return) फाइल करने की आज आखिरी तारीख (Last Date of ITR Filling) है.

आयकर विभाग ने अभी अभी अपील किया है कि ज्यादा से ज्यादा संख्या में लोग रिटर्न फाइल करें. इसके अलावा आयकर विभाग ने आज 31 जुलाई को रविवार होने के बावजूद भी सभी आयकर सेवा केंद्र खोले रखने का आदेश दिया है. इसलिए आज सभी सेवा केन्द्र में रिटर्न दाखिल हो रहे हैं.

आपको बता दें, की आयकरदाता आज यानी 31 जुलाई 2022 तक ही अपना आईटीआर यानी Income Tax Return दाखिल कर सकते हैं. लेकिन अभी भी कई करदाताओं ने अपना इनकम टैक्स रिटर्न नहीं भरा है. ऐसे में आयकर दाता को जुर्माने से बचने के लिए इसे जल्द से जल्द फाइल करना जरूरी है. 

IT Company Share Latest News 


एक तरफ तो बदेश में बेरोजगारी है लाखों लोगों को रोजगार नहीं मिल रहे हैं। वहीं दूसरी तरफ आईटी कंपनियों IT Company) में काम करने वाले Employee लगातार नौकरी से रिजाइन दे रहे हैं। देश की सबसे बड़ी IT Service Company टाटा कंसल्टेंसी सर्विस TCS), विप्रो Wipro) और HCL ने अपने कर्मचारियों को रोकने के लिए कई तरह की फैसिलिटी देने का ऐलान किया है। अब यह कम्पनियां अपने कर्मचारियों को बोनस देने के अलावा हर तीन महीने पर सैलरी भी बढ़ाएगी।

आपको बता दे कि पिछले एक वर्ष में TCS को छोड़कर जाने वाले Employee की दर 19.7% रही है। कंपनी छोड़ने वाले Employee को मापने वाली दर को Attrition Rate कहा जाता है। और यह दर पिछले 6 क्वार्टर में सबसे ज्यादा है। इससे पहले वाले क्वार्टर में 17.4 फीसदी कर्मचारियों ने कंपनी को रिजाइन दिया था। वहीं अगर बात विप्रो Wipro) की करें तो ये भी अपने उच्चतम स्तर 23.3% पर पहुंच गया है। इन तीनों बड़ी IT कंपनियों में से सबसे ज्यादा एट्रिशन रेट HCL का है। जहां सिर्फ जुन 2022 क्वार्टर में 23.8 फीसदी कर्मचारियों ने इस्तीफा दिया है।

RBI Repo rate news today

अमेरिकी केंद्रीय बैंक फेडरल रिजर्व द्वारा ब्याज दरों में इजाफा करने के कुछ दिन बाद भारतीय रिजर्व बैंक भी प्रमुख नीतिगत दर रेपो में 0.25 से 0.35 प्रतिशत की बढ़ोतरी कर सकता है।

विशेषज्ञों का मानना है कि मुद्रास्फीति पर रोक लगाने के लिए केंदीय बैंक अगले हफ्ते होने वाली मौद्रिक नीति समीक्षा बैठक में रेपो दर बढ़ा सकता है।

केंद्रीय रिजर्व बैंक पहले ही अपने नरम मौद्रिक रुख को धीरे-धीरे वापस लेने की घोषणा कर चुका है। रिजर्व बैंक की मौद्रिक नीति समिति (एमपीसी) की तीन दिन की बैठक तीन अगस्त से शुरू हो रही है। इस बैठक के नतीजों की घोषणा पांच अगस्त को होगी।

खुदरा मुद्रास्फीति छह महीने से रिजर्व बैंक के छह प्रतिशत के संतोषजनक स्तर से ऊपर बनी हुई है। ऐसे में रिजर्व बैंक ने मई और जून में रेपो दर में क्रमश: 0.40 प्रतिशत और 0.50 प्रतिशत की बढ़ोतरी की थी।


foreign portfolio investors in share market 

लगातार नौ माह तक बिकवाली करने के बाद विदेशी पोर्टफोलियो निवेशक  यानी एफपीआई भारतीय शेयर बाजारों में लौट आए हैं। अकेले जुलाई में  ही एफपीआई ने शेयर बाजारों में करीब 5,000 करोड़ रुपये का निवेश किया है।

डॉलर इंडेक्स के नरम पड़ने और भारतीय कंपनियों के बेहतर तिमाही नतीजों के बाद एफपीआई एक बार फिर बड़े खरीददार बन गए हैं।

इससे पहले जून में एफपीआई ने शेयर बाजार से करीब 50,145 करोड़ रुपये निकाले थे। यह मार्च, 2020 के बाद किसी एक महीने में सबसे अधिक की बिकवाली है। उस समय एफपीआई ने शेयर बाजार से 61,973 करोड़ रुपये निकाले थे।

यस सिक्योरिटीज के expert हितेश जैन का कहना है कि अगस्त में भी एफपीआई का रुख सकारात्मक बना रहेगा। इसकी वजह यह है कि भारतीय रुपये का सबसे खराब समय अब बीत चुका है और कच्चे तेल के दाम भी एक ठीक ठाक दायरे में कारोबार कर रहे हैं।

इसके अलावा भारतीय कंपनियों के तिमाही नतीजे भी बेहतर रहे हैं।

housing development finance corporation share news today

हाउसिंग डेवलपमेंट एंड फाइनेंस कॉरपोरेशन (HDFC) ने अपनी रिटेल प्राइम लेंडिंग रेट (RPLR) में 25 बेसिस पॉइंट की बढ़ोतरी की है। RPLR एक बेंचमार्क लेंडिंग रेट होता है। जिसे न्यूनतम ब्याज दर भी कहा जाता हैं।

इससे अब HDFC के एडजस्टेबल-रेट होम लोन की ब्याज दरें बढ़ जाएगी। वहीं, जिन ग्राहकों के पास पहले से होम ही लोन है उनकी EMI पर भी दबाव बढ़ जाएगा। बढ़ी हुई दरें 1 अगस्त 2022 से लागू होगी । HDFC ने इस बात की जानकारी स्टॉक एक्सचेंज की फाइलिंग में दी है।

आपको बता दें कि HDFC का यह फैसला ऐसे समय में आया है। जब केंद्रीय रिजर्व बैंक मौद्रिक नीति समिति (MPC) की बैठक होने वाली है। अगस्त के पहले हफ्ते में होने वाली इस मीटिंग के दौरान महंगाई पर चर्चा होने की उम्मीद जताई जा रही है।  

आपको बता दे कि इससे पहले 9 जून को भी देश की सबसे बड़ी हाउसिंग फाइनेंस कंपनी HDFC ने रिटेल प्राइम लेंडिंग रेट में 50 बेसिस पॉइंट की बढ़ोतरी की थी। वहीं, 1 जून को भी 5 बेसिस पॉइंट का इजाफा किया था। और 2 मई को 5 बेसिस पॉइंट और 9 मई को होम लोन की दरों में 0.30 फीसदी का इजाफा किया गया था। 

instagram :- https://www.instagram.com/stock_24x7/

FB page :- https://www.facebook.com/stocks24x7


#Hashtags Used

#business  #stock24x7news
#stockmarket #stocks #investing #trading #investment #money #finance #forex #invest #nifty #investor #business #sharemarket #financialfreedom #bitcoin #trader #cryptocurrency #entrepreneur #sensex #daytrader #stock #wallstreet #wealth #nse #forextrader #bse #stockmarketindia #daytrading #stockmarketnews #forextrading




एक टिप्पणी भेजें (0)
और नया पुराने